शादी के बाद भी मैं अनचुदी रह गई

 
loading...

काफी सारी कहानियाँ पढ़ने के बाद मैं चाहती हूँ कि अपनी आप-बीती भी मैं आपको सुनाऊँ।
मेरा नाम बेला है, मैं रांची से हूँ। मेरी शादी एक सीधे साधे चूतिया टाइप के इंसान से हुई है। शादी के बाद हम अपनी मधु चन्द्रिका मनाने मनाली गए पाँच दिनों के लिए। उन पाँच दिनों में ऐसा कुछ नहीं हुआ जिससे मुझे मज़ा आया हो! आप शायद समझ गए ! तरुन (मेरे पति) ने मुझे ढंग से नहीं चोदा- मैं अनचुदी रह गई।

मैं वापस दिल्ली आ गई और ऑफिस के काम में लग गई।
एक रोज़ बॉस ने कहा- शनिवार को आना है !

मुझसे वैसे भी शनिवार काटे नहीं कटता था क्यूंकि तरुन का शनिवार को भी ऑफिस होता है। मैं तकरीबन ग्यारह बजे ऑफिस पहुँच गई। बॉस आ चुके थे। हम दोनों ने दो बजे तक डटकर काम किया। ऑफिस में सिर्फ मेरा बॉस, मैं और ऑफिस बॉय राजू था।

मैं अपने कंप्यूटर पर कुछ काम कर रही थी कि बॉस पीछे से आकर देखने लगे और समझाने लगे कि कैसे क्या करना है। मैं उनका निर्देश लेकर काम करती रही। चूंकि बॉस बहुत पास आकर देख रहे थे, मेरा एक गाल उनके बहुत ही नज़दीक हो गया था। उनको पता नहीं क्या सूझी, उन्होंने मेरे गाल पर एक पप्पी दे दी। मैं चौंक गई।

बॉस ने कहा- बेला, तुम बहुत सुन्दर हो और मुझे तुम अच्छी लगती हो।

मैं बस उनको देखती रह गई। फिर उन्होंने मेरी बाहों पर हाथ फेरना शुरु किया। हाथ फेरते फेरते उनके हाथ मेरे गले तक पहुंचे और वे मुझे प्यार करने लगे। इतने में राजू अन्दर आया। मैंने बॉस से कहा- सर, राजू को बाहर भेजिए पहले।

बॉस खुश। इसमें मेरी हाँ जो थी।

वे बाहर गए यह कहते हुए कि तैयार रहना। मैं समझ गई कि बॉस मुझे आज चोदेगा और मैं खुश हो गई। मैंने अपनी चूत से कहा- देख निगोड़ी ! सब्र का फल मीठा होता है। आज उछल कर चुदना।

मैं सीधे बाथरूम गई, खूब मूता और अपनी चूत को खूब साफ़ किया। हल्का सा स्प्रे लगाकर मैं बाहर आ गई। इतने में बॉस अन्दर आये। और उन्होंने मुझे दीवार से टिकाकर मुझे खूब चूमा। चूमते चूमते उन्होंने मेरा ब्लाऊज उतार दिया। अब मैं ब्रा और स्कर्ट में थी। मुझे अपनी गोद में बिठाया और मेरे होटों को चूसने लगे। मैं भी कहाँ पीछे हटने वाली थी। मैं भी मस्त हो कर उनसे झूल गई। क्यों ना झूलती ! मेरी चूत में भी तो कुछ कुछ हो रहा था।

उन्होंने मुझे खड़ा किया और मेरी स्कर्ट उतार दी। मैं अब सिर्फ चड्डी और ब्रा में थी। बॉस मुझे निहार रहे थे, मैंने इनकी टी-शर्ट उतार दी और फिर उनकी जींस। बॉस का लंड तो बाहर आने के लिए कुलांचे भर रहा था। मैंने उनका लंड पकड़ लिया। बॉस ने एक आह भरी और मुझे मेरी ब्रा से अलग किया।

दोनों मम्मों को दबाने लगे और फिर मुझे गोद में उठाकर मेरी चड्डी अलग कर दी। इस वक़्त मैं बॉस की बाहों में पूरी की पूरी नंगी थी। बॉस मुझे इसी अवस्था में बोर्ड रूम ले गए और मुझे मेज़ पर लिटा दिया। मेरे दोनों हाथ ऊपर और दोनों टाँगे अलग अलग करके वे मेरी झांटों से खेलने लगे।

मेरे होंठों पर उनके होंठ, उनका एक हाथ मेरी एक बांहों को सहला रहा था और दूसरे हाथ से वे मेरी चूत से खेल रहे थे। ऐसा सुख मुझे तरुन ने कभी नहीं दिया था। बॉस मुझे चूमते हुए मेरी नाभि तक पहुंचे और फिर मेरी चूत पर। चूत को चौड़ा कर उन्होने अपनी जीभ मेरे रति-छिद्र में डाल दी जिससे में दो फ़ुट ऊपर उछल गई।

इतने में मेरा मोबाईल बजा, अब मैं कैसे उठाती। बजते बजते बंद हो गया। फिर बजा। और उसके बाद फिर। मैं समझ गई तरुन ही होंगे। इतने में ऑफिस का फ़ोन बजा और चूंकि एक फ़ोन उस मेज़ पर ही था, मैंने अनायास उठा लिया। दोस्तों आप ये कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है l
तरुन ही थे, पूछ रहे थे- क्या कर रही हो डार्लिंग?

अब मैं क्या कहती – अपनी चूत चुसवा रही हूँ?

मैंने कहा- काम कर रही हूँ।

इतने में राज के चूसने से मैं झड़ने वाली थी। मेरे मुँह से एक लम्बी आह निकली।

तरुन ने पूछा क्या हुआ?

सोचा- बोल दूं कि झड़ने वाली हूँ, लेकिन कहा- एक जगह बैठे बैठे पांव सुन्न हो गया। हिल नहीं पा रही हूँ।

इतने में राज ने मेरी चूत से पानी निकाल दिया। मैंने फ़ोन रख दिया और जोर से हूँ-हाँ करने लगी। बॉस ने अब ऊँगली करनी शुरू कर दी और मैं फिर से झड़ गई। बॉस मुझे खूब चूमा और कहा- उठो।
मैं मेज़ से उठ नहीं पा रही थी। बॉस समझ गए। मेरे बदन को निहारते रहे।

पांच मिनट के बाद में उठी और बॉस के सामने खड़ी हो गई। अब बॉस मेज़ पर लेट गए। मैंने उनकी चड्डी उतार दी। उनका लंड तो एक भयानक किस्म का जीव लग रहा था। आठ इंच लम्बा और डेढ़ इंच मोटा। उनका सुपारा एकदम गुलाबी रंग का था और मैंने उस सुपारे को अपने नाख़ून से थोड़ा पिंच किया। मेरे बॉस के मुँह से एक दर्दनाक आह निकली। मैंने अपने दोनों हाथों से उनका लंड लिया। मेरे दोनों हाथों में नहीं समा पा रहा था वो। खैर मैंने एक हाथ से उसको हिलाना शुरू किया।

फिर बॉस ने अपनी टांगें चौड़ी की और कहा- टेबल पर आ जाओ !

मैं मेज़ पर चढ़ गई और उनका लंड चूसने लगी। मैंने खूब चूसा और खूब हिलाया। उनके टट्टे अपने मुँह में लेकर उनके लंड को ऊपर नीचे करने लगी। बॉस शायद झड़ने वाले थे। एक लम्बी आह भरी और बोले- बेला मेरा मट्ठा निकल रहा है ! चूस रानी चूस।

मैने भी उनके लंड को चूसकर सारा का सारा मट्ठा निकाला और पी गई। बॉस का लंड एक ओर लुढ़क गया। मैने उसे चूमा और बॉस के पास आकर लेट गई।

दस मिनट के बाद बॉस ने पूछा- तैयार हो?

मैं तो कब से तैयार थी, मैं बोली- हाँ ! और इनका लंड फिर से तैयार करने लगी।

बॉस मेरी चूत में ऊँगली करने लगे। मैं तो गीली हो गई थी। बॉस ने मुझे गोद में उठाया और सोफे की ओर ले गए। मुझे औंधा लिटा कर उन्होंने मेरे चूतड़ उठाये और फिर मेरी फुद्दी में अपनी एक ऊँगली डाल दी। मैं तैयार थी। इतने में बॉस ने अपना सुपारा मेरी चूत में डाला और एक जोर का झटका दिया। मैं चीख पड़ी। बॉस को कोई फर्क नहीं पड़ा।

वे मेरी कमरिया को पकड़कर कभी मुझे अपनी ओर खींचते या फिर मुझे स्थिर रखकर अपने आप को धक्का देते। दोनों ही सूरत में मेरी फाड़ रहे थे। मैं तो बस चीखती रही। ये तो सहवाग की तरह बल्लेबाजी कर रहे थे। पता नहीं इनको क्या जल्दी थी। ऐसा उन्होने मेरे साथ तकरीबन पंद्रह मिनट तक किया और नीचे से मेरे मम्मों को भी दबा रहे थे।

मैं चिल्ला रही थी- बस करो बस करो, आह, ऊह, मर गई, मम्मीईई, मम्मीईईई ! दोस्तों आप ये कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है l

मगर बॉस को कोई रहम नहीं आया। बॉस मुझे चोदते रहे और मैं चुदती रही। मेरी चूत का तो उन्होंने भोसड़ा बन दिया था। मन ही मन चाह रही थी कि तरुन देखें और सीखें कि किस तरह से एक चूत को चोदा जाता है। थोड़ी देर में बॉस झड़ने वाले थे। उन्होंने अपना लंड निकाला और मेरी गोरी पीठ पर रख दिया।

एक गर्म एहसास हुआ पीठ पर और बॉस ने अपना सारा माल मेरी पीठ पर उड़ेल दिया और फिर मेरे बगल में बैठ गए। मैं बॉस की गोद में लुढ़क गई। मैं बहुत थक गई थी। मैंने शादी से पहले ऐसी चुदने की कल्पना भर की थी। तरुन ने यह सुख कभी ना दिया और ना ही कभी देगा। और बॉस ने तो मेरी ले ली।

उस रोज़ बॉस ने मुझे दो बार मेरी चूत को और चोदा और एक बार गांड भी मारी। शाम होते होते मैं बहुत पिद चुकी थी। इतनी चुदाई के बाद तो मैं खड़ी भी नहीं हो पा रही थी। बॉस ने मुझे उस रात घर तक छोड़ा। उसके बाद तो मैं बॉस से खूब खुलकर चुदने लगी। मैं हफ्ते में तीन चार बार तो बॉस से चुदती ही हूँ। अच्छा एक बात तो बताना ही भूल गई। मेरा प्रोमोशन हो गया है।

वैसे तरुन भी कभी कभी अपनी लुल्ली मेरे अन्दर डाल देता है। अब बर्फी खाकर गुड़ में मजा कहाँ रहता है?



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


wwwxxx.ldki psb kartikamukta.50.didi ko zabardasti chodte hua dekha sex khaniहिंदी सचि कहानिये सेक्स स्टोरी कॉमmai jabardasti chudai sexy storyBhai ne choda randi bna ke pregnant kar diya desi sex storis sexy कहानियाँXXX.MAMA.KHANImeri real sex kahani sexyJEEJA SALI KI GAND MARTA VIDIO FILMbadmas bahu ne sasur ke sath chodai ki hindi kahaniindian hindi antarvasnachutkahanix kahaniya moshimeri bacchadani tak lund dalawww.lambe land se chut fad sex hindi stori.comमजेदार सेकसी कहानीmuslim mother ne gand marwayi khaniyaमाँ को अंकल ने घोडी बनाके चोदाpass hone ke liye seal tudwai kamukta.comdeshi.sexshtoris.inसेकसी कहानियाXxx sex soti bhabhi ka nada khol kr liya maja videosबहन ने कयी दिन से लंङ पर बैठीBeti ko poore khaandaan ne choda story xxx hinde storeysax in hinde khane or imagचाची कि चुत चुदाई2018Mom nangi mujhe uthna aay sex storySister ur uski friend ko ek sath rqndi ki tarah choda sex stories in hindius din ke samuhik chudayi ke baad maa randi banayi hindi writing sexy stories by.comChudai ki pati ke pass vale kahaniyabhai bahan ne jangal me mangal kiya sex storyshadishuda cousin ki pehlisuhagraatbhabhi devar sex storieskothewali rumdiyo ki jabrdst sexy story hendimechar dosto ke sath jungle me chudai lahanisexi ma dete ki khaneechodai ki kahani no. 206hapsi ka jins ched kar ke sexभाई बुर चोदा कहानी HDxxx sexy kahaniya rishte kahaniya sexsagar image kahanihot hindiaantarvasna kahaniभाभी सेकसी सेरी कमxx vidio mama ne bhanje ki tel laga ki mareदो ान्ति की एक साथ चढाई २०१८Bhabi ki rasele chute ki story writting in hindiChut kahani hot hot xxxxxx aunty massage hindi kahaniyaBhan ne chut dilaisex maa khani2018Bp xxx story in hindi readxxx hot new gay sexy kahaniya muje ankal ne coda15 salla xex girlxxxhendestoregoogle.bhojpure.xxy.khneyawww bahan bhai hot sex kahan hindi meअंतर्वास्ना परिवार में भाई बहन माँ बाप सामूहिक कहानी घर में एक साथkunwari bahan ko jabarjasti mai or mere dost ne choda hindi storyहिदी सैकसी काहनी पैगनेटghar ke chodai khane15 slki ladakiki bra Nikar ke sat hindi sadivali chudie xxxHindi hd nashe me gair ke rep video downloadpmt class mate sex kahani hindiwww.uantarvasna.comxxx istori hindiनानाजी ने निकाला चुत में से खून स्टोरीindiyan bhabi sadi me sex moviesxnxxmom san hindi sexi khani hindi sabdo mekamukta.comपती ने चुत फाराxxxxxxxx.kahane..marathe.mamere bhai ka vikral lundxxx hot sexy storysma ke bur me beta ka lund ki kahanibadi bhehen ne noukar se chudai ka sexi videos downloadbahu ne sasur ke sath sex kiya sexyi storis